मोहब्बत एक अहसासों की पावन सी कहानी है

मोहब्बत एक अहसासों की पावन सी कहानी है
कभी कबिरा दीवाना था कभी मीरा दीवानी है

यहाँ सब लोग कहते हैं मेरी आंखों में आँसू हैं
जो तू समझे तो मोती है जो ना समझे तो पानी है

Mohabbat Ek Ehsaason Ki Pawan Si Kahani Hai

mohabbat ek ehsaason ki pawan si kahani hai
kabhi kabeera diwana tha, kabhi meera diwani hai,

yaha sab log kahte hai meri aankhon main aansu hain
jo tu samjhe to moti hai, jo na samjhe to pani hai.

2 thoughts on “मोहब्बत एक अहसासों की पावन सी कहानी है”

  1. कुमार विश्वास जी इस इस कविता ने दिल जीत लिए, वह वाक़ई कमाल की कविताएं लिखते हैं। मैं उन्हें भी और यूटरीक्स टीम को भी धन्यवाद् कहता हूँ।

    Reply

Leave a Comment