कोई दीवाना कहता है

कोई दीवाना कहता है
कोई पागल समझता है
मगर धरती की बेचैनी को
बस बादल समझता है,

मैं तुझसे दूर कैसा हूँ
तू मुझसे दूर कैसी है
ये तेरा दिल समझता है
या मेरा दिल समझता है

Koi Deewana Kehta Hai

Koi Deewana Kehta Hai
Koi Pagal Samajhta Hai
Magar Dharti ki Bachaini Ko
Bas Badal Samajhta Hai

Main Tujh se Door Kaisa Hun
Tu Mujh se Door Kaisi Hai
Ye Teri Dil Samajhta Hai
Ya Mera Dil Samajhta Hai

Leave a Comment