बरसात के मौसम में

barsaat ke mausam mein - बरसात के मौसम में

बरसात के मौसम में तनहाई के आलम में मैं घर से निकल आया बोतल भी उठा लाया अभी ज़िंदा हूँ तो जी लेने दो भरी बरसात में पी लेने दो, मुझे टुकड़ों में नहीं जीना है क़तरा क़तरा तो नहीं पीना है आज पैमाने हटा दो यारों सारा मयखाना पिला दो यारों मयकदों में तो … Read more

मेरे दुख की कोई दवा न करो

mere dukh ki koi dawa na karo - मेरे दुख की कोई दवा न करो

मेरे दुख की कोई दवा न करो मुझ को मुझ से अभी जुदा न करो, नाख़ुदा को ख़ुदा कहा है तो फिर डूब जाओ ख़ुदा ख़ुदा न करो, ये सिखाया है दोस्ती ने हमें दोस्त बन कर कभी वफ़ा न करो, इश्क़ है इश्क़ ये मज़ाक़ नहीं चंद लम्हों में फ़ैसला न करो, आशिक़ी हो … Read more

कुछ तो दुनिया की इनायत ने दिल तोड़ दिया

kuch to duniya ki inayat ne dil tod diya - कुछ तो दुनिया की इनायत ने दिल तोड़ दिया

कुछ तो दुनिया की इनायत ने दिल तोड़ दिया और कुछ तल्ख़ी-ए-हालात ने दिल तोड़ दिया, हम तो समझे थे के बरसात में बरसेगी शराब आई बरसात तो बरसात ने दिल तोड़ दिया, दिल तो रोता रहे ओर आँख से आँसू न बहे इश्क़ की ऐसी रिवायात ने दिल तोड़ दिया, वो मिरे हैं मुझे … Read more