इदराक ख़ुद-आश्ना नहीं है

Idrak Khud-Ashna Nahin Hai - इदराक ख़ुद-आश्ना नहीं है

इदराक ख़ुद-आश्ना नहीं है वर्ना इंसाँ में क्या नहीं है, क्या ढूँढने जाऊँ मैं किसी को अपना मुझे ख़ुद पता नहीं है, क्यूँ जाम-ए-शराब-ए-नाब माँगूँ साक़ी की नज़र में क्या नहीं है, हुस्न और नवाज़िश-ए-मोहब्बत ऐसा तो कभी हुआ नहीं है, ‘सीमाब’ चमन में जोश-ए-गुल से गुंजाइश-ए-नक़्श-ए-पा नहीं है। Idrak Khud-Ashna Nahin Hai idrak khud-ashna … Read more

अफ़सोस गुज़र गई जवानी

afsos guzar gai jawani - अफ़सोस गुज़र गई जवानी

अफ़सोस गुज़र गई जवानी वो लम्हा-ए-कैफ़-ओ-शादमानी, क्या आ गई नींद अहल-ए-महफ़िल कहनी थी हमें भी इक कहानी, मैं हुस्न-ए-वफ़ा की ज़िंदगी था तुम ने मिरी क़द्र ही न जानी, अब तक ऐमन की वादियों से आती है सदा-ए-लन-तरानी, ‘सीमाब’ करो अब अल्लाह अल्लाह ता-चंद ये मातम-ए-जवानी। Afsos Guzar Gayi Jawani afsos guzar gai jawani wo … Read more