राह आसान हो गई होगी

rah aasan ho gai hogi - राह आसान हो गई होगी

राह आसान हो गई होगी जान पहचान हो गई होगी, मौत से तेरे दर्द-मंदों की मुश्किल आसान हो गई होगी, फिर पलट कर निगह नहीं आई तुझ पे क़ुर्बान हो गई होगी, तेरी ज़ुल्फ़ों को छेड़ती थी सबा ख़ुद परेशान हो गई होगी, उन से भी छीन लोगे याद अपनी जिन का ईमान हो गई … Read more

क्यूँ उजड़ जाती है दिल की महफ़िल

kyun ujad jati hai dil ki mahfil - क्यूँ उजड़ जाती है दिल की महफ़िल

क्यूँ उजड़ जाती है दिल की महफ़िल ये दिया कौन बुझा देता है, वो नहीं देखते साहिल की तरफ़ जिन को तूफ़ान सदा देता है, शोर दिन को नहीं सोने देता शब को सन्नाटा जगा देता है, तुम तो कहते थे कि रुत का जादू दश्त में फूल खिला देता है, उस की मर्ज़ी है … Read more