इसी गली में वो भूखा किसान रहता है

Isi gali mein wo bhukha kisan rahata hai - इसी गली में वो भूखा किसान रहता है

इसी गली में वो भूखा किसान रहता है ये वो ज़मीन है जहाँ आसमान रहता है, मैं डर रहा हूँ हवा से ये पेड़ गिर न पड़े कि इस पे चिडियों का इक ख़ानदान रहता है, सड़क पे घूमते पागल की तरह दिल है मेरा हमेशा चोट का ताज़ा निशान रहता है, तुम्हारे ख़्वाबों से … Read more