असर उस को ज़रा नहीं होता

asar usko zara nahin hota - असर उस को ज़रा नहीं होता

असर उस को ज़रा नहीं होता रंज राहत-फ़ज़ा नहीं होता बेवफ़ा कहने की शिकायत है तो भी वादा-वफ़ा नहीं होता ज़िक्र-ए-अग़्यार से हुआ मा’लूम हर्फ़-ए-नासेह बुरा नहीं होता किस को है ज़ौक़-ए-तल्ख़-कामी लेक जंग बिन कुछ मज़ा नहीं होता तुम हमारे किसी तरह न हुए वर्ना दुनिया में क्या नहीं होता उस ने क्या जाने … Read more