किसे अपना बनाएँ कोई इस क़ाबिल नहीं मिलता

Kise Apna Banaen Koi Is Qabil Nahin Milta - किसे अपना बनाएँ कोई इस क़ाबिल नहीं मिलता

किसे अपना बनाएँ कोई इस क़ाबिल नहीं मिलता यहाँ पत्थर बहुत मिलते हैं लेकिन दिल नहीं मिलता, मोहब्बत का सिला ईसार का हासिल नहीं मिलता वो नज़रें बार-हा मिलती हैं लेकिन दिल नहीं मिलता, तुम्हारा रूठना तम्हीद थी अफ़्साना-ए-ग़म की ज़माना हो गया हम से मिज़ाज-ए-दिल नहीं मिलता, जहाँ तक देखता हूँ मैं जहाँ तक … Read more

हज़ार रंज हो दिल लाख दर्द-मंद रहे

Hazar Ranj Ho Dil Lakh Dard-Mand Rahe - हज़ार रंज हो दिल लाख दर्द-मंद रहे

हज़ार रंज हो दिल लाख दर्द-मंद रहे ख़याल पस्त न हो हौसला बुलंद रहे, ग़म-ए-फ़िराक़ में दिल क्यूँ न दर्द-मंद रहे बहार आ के गई हम क़फ़स में बंद रहे, ख़ुदा की याद में दुनिया को भूल जा ऐ दिल वो काम कर कि हर इक तर्फ़ सूद-मंद रहे, मिले कि कुछ न मिले माँगने … Read more