दिल मिरा फिर दुखा दिया किन ने

dil mera phir dukha diya kin ne - दिल मिरा फिर दुखा दिया किन ने

दिल मिरा फिर दुखा दिया किन ने सो गया था जगा दिया किन ने, मैं कहाँ और ख़याल-ए-बोसा कहाँ मुँह से मुँह यूँ भिड़ा दिया किन ने, वो मिरे चाहने को क्या जाने ये संदेसा सुना दिया किन ने, हम भी कुछ देखते समझते थे सब यकायक छुपा दिया किन ने, वो बुलाए से भागता … Read more

जग में आ कर इधर उधर देखा

jag mein aa kar idhar udhar dekha - जग में आ कर इधर उधर देखा

जग में आ कर इधर उधर देखा तू ही आया नज़र जिधर देखा, जान से हो गए बदन ख़ाली जिस तरफ़ तू ने आँख भर देखा, नाला फ़रियाद आह और ज़ारी आप से हो सका सो कर देखा, उन लबों ने न की मसीहाई हम ने सौ सौ तरह से मर देखा, ज़ोर आशिक़-मिज़ाज है … Read more