ज़िंदगी पे एक एहसान कर जाइए

Zindagi Pe Ek Ehsan Kar Jaiye - ज़िंदगी पे एक एहसान कर जाइए

ज़िंदगी पे एक एहसान कर जाइए आप दिल में हमारे उतर जाइए, दिल का दरिया मोहब्बत से लबरेज़ है इस में ग़ोता लगा कर निखर जाइए, इस ज़माने का कोई भरोसा नहीं शाम होने लगी अपने घर जाइए, ज़ीस्त की राह दुश्वार है तो मगर राह-ए-हस्ती से हँस कर गुज़र जाइए, मेज़बानी का मौक़ा मुझे … Read more

आप क्या मिल गए ज़िंदगी मिल गई

Aap Kya Mil Gae Zindagi Mil Gai - आप क्या मिल गए ज़िंदगी मिल गई

आप क्या मिल गए ज़िंदगी मिल गई जिस से महरूम था वो ख़ुशी मिल गई, ज़िंदगी में अंधेरा अंधेरा सा था आप को देख कर रौशनी मिल गई, मो’जिज़ा इक हुआ तुम मिले दफ़अतन मेरे लब सिल गए ख़ामोशी मिल गई, उन से पूछा कि कैसी गुज़रती है अब देखा आँखों में उन की नमी … Read more