कर चले हम फ़िदा जानो तन साथियो

kar chale hum fida jano tan sathiyon

कर चले हम फ़िदा जानो-तन साथियो अब तुम्हारे हवाले वतन साथियो साँस थमती गई, नब्ज़ जमती गई फिर भी बढ़ते क़दम को न रुकने दिया कट गए सर हमारे तो कुछ ग़म नहीं सर हिमालय का हमने न झुकने दिया, मरते-मरते रहा बाँकपन साथियो अब तुम्हारे हवाले वतन साथियो, ज़िंदा रहने के मौसम बहुत हैं … Read more