आज मुद्दत में वो याद आए हैं

Aaj Muddat Mein Wo Yaad Aae Hain - आज मुद्दत में वो याद आए हैं

आज मुद्दत में वो याद आए हैं दर ओ दीवार पे कुछ साए हैं, आबगीनों से न टकरा पाए कोहसारों से तो टकराए हैं, ज़िंदगी तेरे हवादिस हम को कुछ न कुछ राह पे ले आए हैं, संग-रेज़ों से ख़ज़फ़-पारों से कितने हीरे कभी चुन लाए हैं, इतने मायूस तो हालात नहीं लोग किस वास्ते … Read more

आहट सी कोई आए तो लगता है कि तुम हो

Aahat Si Koi Aae to Lagta Hai Ki Tum Ho - आहट सी कोई आए तो लगता है कि तुम हो

आहट सी कोई आए तो लगता है कि तुम हो साया कोई लहराए तो लगता है कि तुम हो, जब शाख़ कोई हाथ लगाते ही चमन में शरमाए लचक जाए तो लगता है कि तुम हो, संदल से महकती हुई पुर-कैफ़ हवा का झोंका कोई टकराए तो लगता है कि तुम हो, ओढ़े हुए तारों … Read more