तुम बिन जिया जाए कैसे

Tum Bin Jiya Jaye Kaise - तुम बिन जिया जाए कैसे

तुम बिन क्या है जीना क्या है जीना तुम बिन क्या है जीना तुम बिन जिया जाए कैसे कैसे जिया जाए तुम बिन सदियों से लम्बी हैं रातें सदियों से लम्बे हुए दिन आ जाओ लौट कर तुम ये दिल कह रहा है, फिर शाम-ए-तन्हाई जागी फिर याद तुम आ रहे हो फिर जां निकलने … Read more

कोई फ़रियाद तिरे दिल में दबी हो जैसे

koi fariyad tere dil mein dabi ho jaise - कोई फ़रियाद तिरे दिल में दबी हो जैसे

कोई फ़रियाद तिरे दिल में दबी हो जैसे तू ने आँखों से कोई बात कही हो जैसे जागते जागते इक उम्र कटी हो जैसे जान बाक़ी है मगर साँस रुकी हो जैसे हर मुलाक़ात पे महसूस यही होता है मुझ से कुछ तेरी नज़र पूछ रही हो जैसे राह चलते हुए अक्सर ये गुमाँ होता … Read more