अब इश्क़ रहा न वो जुनूँ है

Ab Ishq Raha Na Wo Junun Hai - अब इश्क़ रहा न वो जुनूँ है

अब इश्क़ रहा न वो जुनूँ है तूफ़ान के बाद का सुकूँ है, एहसास को ज़िद है दर्द-ए-दिल से कम हो तो ये जानिए फ़ुज़ूँ है, रास आई है इश्क़ को ज़बूनी जिस हाल में देखिए ज़ुबूँ है, बाक़ी न जिगर रहा न अब दिल अश्कों में हुनूज़ रंग-ए-ख़ूँ है, इज़हार है दर्द-ए-दिल का ‘बिस्मिल’ … Read more

सर जिस पे न झुक जाए उसे दर नहीं कहते

Sar Jis Pe Na Jhuk Jae Use Dar Nahin Kahte - सर जिस पे न झुक जाए उसे दर नहीं कहते

सर जिस पे न झुक जाए उसे दर नहीं कहते हर दर पे जो झुक जाए उसे सर नहीं कहते, का’बे में मुसलमान को कह देते हैं काफ़िर बुत-ख़ाने में काफ़िर को भी काफ़िर नहीं कहते, रिंदों को डरा सकते हैं क्या हज़रत-ए-वाइ’ज़ जो कहते हैं अल्लाह से डर कर नहीं कहते, का’बे ही में … Read more